NATION REPORT
http://currentnationreports.blogspot.com

NATION REPORT

Prime Minister Narendra Modi news Nationreport.in India news weather sport cricket Desi national international crime Kashmir current news available

Breaking

Friday, October 18, 2019

पीएम मोदी आज हिसार और मोहाना में गरजेंगे तो सोनिया गांधी महेंद्रगढ़ में करेंगी पहली रैली

7:30 AM 0
पीएम मोदी आज हिसार और मोहाना में गरजेंगे तो सोनिया गांधी महेंद्रगढ़ में करेंगी पहली रैली

पीएम मोदी आज हिसार और मोहाना में गरजेंगे तो सोनिया गांधी महेंद्रगढ़ में करेंगी पहली रैली

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, महेंद्रगढ़/सोनीपत/हिसार (हरियाणा) Updated Fri, 18 Oct 2019 07:13 AM IST
पीएम मोदी और सोनिया गांधी (फाइल फोटो)
पीएम मोदी और सोनिया गांधी (फाइल फोटो)
हरियाणा विधानसभा चुनाव में जमीन तैयार करने के लिए प्रमुख दलों के स्टार प्रचारक भी अब ताकत झोंकेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिसार और सोनीपत के गांव मोहाना में शुक्रवार को विजय संकल्प रैली को संबोधित करेंगे तो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी महेंद्रगढ़ में पहली रैली कर मोर्चा संभालेंगी। आम जनता को परेशानी से बचाने के लिए सेक्टर 1-4 की तरफ के रूट डायवर्ट किए गए हैं। उधर, गांव मोहाना की अनाज मंडी में पीएम नरेंद्र मोदी 18 अक्तूबर को दिन में करीब 12.30 बजे रैली स्थल पर पहुंचेंगे और दो घंटे तक रहेंगे। रैली को लेकर सोनीपत-गोहाना मार्ग पर चार घंटे तक रूट डायवर्ट किया गया है। 

सुरक्षा के लिए नौ एसपी, 22 डीएसपी समेत 1700 पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। प्रधानमंत्री 19 अक्तूबर को ऐलनाबाद हलके के गांव मल्लेकां की अनाज मंडी में रैली को संबोधित करेंगे। इसके अलावा वह रेवाड़ी और गुरुग्राम जिले सहित दक्षिण हरियाणा की 9 विधानसभा सीटों के लिए रेवाड़ी के हुडा मैदान में जनसभा करेंगे। 

उधर, सोनिया गांधी शुक्रवार को महेंद्रगढ़ में प्रत्याशी राव दान सिंह के लिए चुनावी रैली को संबोधित करेंगी। हरियाणा विधानसभा चुनाव में यह उनकी पहली रैली होगी। तय कार्यक्रम के मुताबिक सोनिया गांधी की खेल स्टेडियम में दोपहर बाद दो बजे रैली स्थल पर पहुंचेंगी। 

पूर्व सीएम हुड्डा के गढ़ में हुंकार भरेंगे मुख्यमंत्री मनोहर 

सीएम मनोहर लाल शुक्रवार को अंबाला की मुलाना के अलावा लाडवा, चरखी दादरी, भिवानी, झज्जर और पूर्व सीएम हुड्डा के गढ़ रोहतक में जनसभाएं करेंगे। दिल्ली भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मनोज तिवारी यमुनानगर और करनाल में रैली करेंगे। फिल्मी स्टार और सांसद हेमामालिनी पलवल, मेवात और महेंद्रगढ़ में जनसभाएं करेंगी। इसी क्रम में क्रिकेटर एवं सांसद गौतम गंभीर पिहोवा विधानसभा सीट पर और सांसद रवि किशन सोनीपत और राई में रैली करेंगे। 

Monday, October 14, 2019

Online पैसे कैसे कमाएं? 10 बेहतरीन तरीके

6:29 PM 0
Online पैसे कैसे कमाएं? 10 बेहतरीन तरीके

Online पैसे कैसे कमाएं? 10 बेहतरीन तरीके

घर बैठे online पैसा कैसे कमाएँ
घर बैठे online पैसा कैसे कमाएँ?
घर बैठे online पैसा कैसे कमाएँ? यह एक बहुत ही आम सवाल है। चाहे वह एक स्टूडेंट (student) हो या कोई हाउसवाइफ(housewife) सभी के मन में यह सवाल है और अगर आप भी यही सवाल सोच रहे हैं तो आप सही जगह आये हैं। आज हम आपको ऐसे 10 बेहतरीन तरीकों के बारे में बताएंगे जिनकी मदद से आप घर बैठे-बैठे ऑनलाइन अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।
सबसे पहले इस काम के लिए आपको दो महत्वपूर्ण चीजों की जरूरत पड़ेगी- स्मार्टफोन(smartphone)/लैपटॉप(laptop) और अच्छा इंटरनेट कनेक्शन (Good Internet Connection)। तो आइए आज हम आपको उन तरीकों के बारे में बताएँगे जिनकी मदद से आप घर बैठे बैठे आसानी से इंटरनेट(internet) से पैसे कमा सकते हैं:
  1. यूट्यूब के द्वारा (Earning on YouTube) – यूट्यूब के बारे में तो सभी जानते ही हैं यूट्यूब एक बहुत ही अच्छा और उभरता हुआ प्लेटफार्म है। अगर आप किसी भी फील्ड में माहिर है या उस फील्ड के ज्ञाता है तो आप युटुब की मदद से पैसे कमा सकते हैं। इसके लिए आपको यूट्यूब पर अपना एक चैनल बनाना होगा। चैनल बनाने के बाद आप जिस भी क्षेत्र में माहिर हैं उसके ऊपर वीडियो बनाकर यूट्यूब पर अपलोड (upload) कर सकते हैं चाहे वह कुकिंग वीडियो (cooking videos) हो या टेक वीडियोस (Tech videos)। जब आपके चैनल पर 4000 घंटे का वॉच टाइम (watch time) तथा 1000 सब्सक्राइबर्स(subscribers) हो जाते हैं तो आप अपने चैनल को मोनेटाइज(monetise) करके अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं।
यूट्यूब से पैसे कैसे बनाते हैं?
यूट्यूब से पैसे कैसे बनाते हैं?
  1. ई-कॉमर्स साइट्स के द्वारा ऑनलाइन सामान बेचकर (Selling on e-commerce sites) – आप ई-कॉमर्स साइट्स पर सामान बेचकर भी घर बैठ- बैठे आराम से पैसे कमा सकते हैं। आज हमारे सामने ऐसे कई उदाहरण है जिनकी मदद से आप अपने प्रोडक्ट्स चाहे वह आपके हैंडीक्राफ्ट्स या भले ही सेकंड हैंड प्रोडक्ट(second hand products) हो या अन्य कोई प्रोडक्ट को बेच कर पैसे कमा सकते हैं। जिनमें फ्लिपकार्ट(Flipkart), ऐमेज़ॉन(Amazon), ओएलएक्स(OLX), क्विकर(Quikr), इबे(EBay) आदि शामिल हैं। इसके लिए आपको सबसे पहले इन ई-कॉमर्स साइट्स पर अपना सेलर अकाउंट(seller account) बनाना पड़ेगा। उसके बाद आप अपने प्रोडक्ट को इन ई-कॉमर्स साइट्स पर रजिस्टर करके बेच सकते हैं। जिसके मदद से आप घर बैठे-बैठे आराम से पैसे कमा सकते हैं। अगर आप इसके बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं कि अमेज़न और फ्लिपकार्ट पर सेलर अकाउंट कैसे बनाते हैं तो हमारे द्वारे नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।
फ्लिपकार्ट सेलर कैसे बनें?         अमेज़न सेलर कैसे बनें?
  1. एफिलिएट मार्केटिंग(Affiliate Marketing) के द्वारा – आप एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा भी पैसे कमा सकते हैं। दरअसल एफिलिएट मार्केटिंग वह तरीका है जिसकी मदद से आप किसी प्रोडक्ट का एफिलिएट लिंक जनरेट(generate) कर के उस प्रोडक्ट(product) का प्रमोशन(promotion) करते हैं। उस लिंक(link) को आप कहीं भी शेयर(share) कर सकते हैं और जब भी कोई उस लिंक से वह प्रोडक्ट को खरीदेगा तो अपको कमीशन(commission) के तौर पर पैसे मिलेंगे। (नोट- अगर आप इसके बारे में विस्तार से जानना चाहते है कि अमेजॉन पर एफिलिएट लिंक कैसे जनरेट करें तो हमारे द्वारा नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।)
  2. फ्रीलान्स कर के (Freelancing) – इंटरनेट पर आप अपने स्किल(skill) यानी की कला के द्वारा भी पैसे कमा सकते हैं। आज इंटरनेट पर ऐसे कई काम है जैसे कि वेब डिजाइनिंग(web designing), ऑनलाइन कोचिंग(online coaching)  इत्यादि। दिन-प्रतिदिन इंटरनेट मार्केटिंग(internet marketing) का स्कोप बड़ा होता जा रहा है। आजकल लोग अपना ऑनलाइन बिजनेस बढ़ाने के लिए फ्रीलांसर्स को खोजते हैं जो पैसे के बदले उनका काम कर दे जिससे उनका बहुत सारा समय बचता है। ऐसी बहुत सारी वेबसाइट हैं जिनपर आप साइन अप कर के फ्रीलांसिंग कर सकते हैं। अगर किसी को उसकी जरूरत होगी तो वह आपको कांटेक्ट(contact) करते हैं और आप घर बैठे-बैठे जॉब पाकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। ऐसी ही कुछ वेबसाइट हैं : fiverr.comupwork.comtruelancer.com
  3. ऑनलाइन ट्यूशन देकर(Online Tuition)- आजकल ज्यादातर लोग ऑनलाइन कोर्सेज(online courses) करना पसंद करते हैं। इससे न केवल समय पर पैसे की भी बचत होती है। ऐसी बहुत सारी वेबसाइट हैं जहाँ पर लोग ऑनलाइन कोर्स करते हैं चाहे वह एकेडमिक्स(academics) हो या फिर वोकेशनल स्किल्स(vocational skills) के लिए। Udemy एक ऐसा अच्छा प्लेटफार्म है जहाँ पर आप अपनी नॉलेज(knowledge) को शेयर कर सकते हैं। सबसे पहले आपको यहाँ पर रजिस्टर(register) करना होगा, उसके बाद आप जो भी कोर्स करा सकते हैं उसके वीडियो का एक प्राइस(price) सेट करके अपलोड कर दे। अगर कोई भी आपका कोर्स(course) लेता है तो Udemy आपको इसके लिए पेमेंट(payment) देगा।
  1. ऑनलाइन पेड़ सर्वे(Online Paid Survey) के द्वारा- यह बहुत ही अच्छा और कॉमन(common) पैसे कमाने का तरीका है। इसमें कई सर्वे कंपनी होती हैं, जो आमतौर पर प्रसिद्ध प्रोडक्ट और सर्विसेस के बारे में इंटरनेट उपभोक्ताओं(Internet users) का ओपिनियन या व्यूज पाने के लिए पे(pay) करती हैं। कुछ सर्वे कंपनी प्रोडक्ट को रिव्यू करने के लिए मुफ्त उत्पाद और सेवाएं भी प्रदान कराती हैं कि आप उन प्रोडक्ट्स को चेक करिये और फिर रिव्यू दीजिए। यह बहुत ही आसान और सही तरीका है घर बैठे-बैठे पैसे कमाने का। ऐसी बहुत सारी फ्रॉड कंपनी भी होती हैं जो सर्वे जैसे काम तो करती हैं पर कुछ भी पे नहीं करती हैं इनसे सावधान रहें।
  2. ऑनलाइन ब्लॉग लिखकर (Blogging) –अगर आपको लिखना पसंद है या आप लिख कर अपने आप को या अपने काम को व्यक्त कर सकते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। ब्लॉग राइटिंग(Blog writing) स्टार्ट करने का सबसे आसान तरीका है कि आप Blogspot.in पर अपना अकाउंट बनाकर लिखना चालू कर दें और जब आपके ब्लॉग को लोग देखना शुरू करेंगे तो आप उस पर विघापन (Ad) लगा कर पैसे कमा सकते हैं। आपकी कमाई आपके ब्लॉग पर आने वाले ट्रैफिक पर निर्भर करती हैं। जितना ज्यादा ट्रैफिक होगा उतनी ही कमाई होगी।
  3. ई-बुक बनाकर उसे सेल करके(Selling E-book)- आजकल लोग ऑफलाइन(offline) बुक से ज्यादा ई-बुक पढ़ना पसंद करते हैं। ऑनलाइनई-बुक बनाकर पैसे कमाना एक बहुत ही आसान तरीका है। अगर आपको ई-बुक बना के पैसे कमाना है तो आपको एक बेहतरीन डिजाइन के साथ कम से कम 100 पेज का ई-बुक तैयार करना पड़ेगा। ई-बुक तैयार करने के बाद आप उसकी सही प्राइस सेट करके कोई भी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर सेल(sell) कर सकते हैं जिसमें अमेजॉन तथा Ebay.in शामिल है, इसके अलावा आप इंस्टामोजो(Instamojo) पर अपना स्टोर बनाकर भी ई-बुक बेच सकते हैं।
e-book selling
  1. URL शार्ट करके- अगर आपको ऑनलाइन किसी प्रकार की काम की जानकारी नहीं है तब आप यूआरएल शार्टनर(URL shortner) के द्वारा पैसा कमा सकते हैं। यह भी एक ऑनलाइन पैसा कमाने का सबसे आसान जरिया है। इसके लिए आपको बस किसी भी इंटरेस्टिंग वेबसाइट (Interesting website) का लिंक(link) को शार्ट करके सोशल मीडिया(social media) पर शेयर करना होगा। लिंक को शॉर्ट करके पैसा कमाने की सर्विस कई वेबसाइट प्रोवाइड कराती है। जिसमे सिर्फ आपको एक बार रजिस्टर करना होता है और इंफॉर्मेशन(information) ऐड(Add) करनी होती है, उसके बाद आप जिस भी लिंक को शॉर्ट करना चाहते हैं उसे कॉपी पेस्ट(copy-paste) करके यह काम कर सकते हैं। लिंक शार्टनर(link szhortner) आपको एक शॉर्ट लिंक देता है जिसके जरिए आप इस लिंक को फेसबुक या व्हाट्सएप (Facebook or WhatsApp) पर एक अच्छे टाइटल के साथ पोस्ट कर दें और ज्यादा से ज्यादा ग्रुप शेयर करें। आपकी शॉर्ट लिंक पर जितने ज्यादा लोग लिंक पर जायेंगे आपको उसी के अनुसार उतना ही ज्यादा पैसा मिलेगा। ऐसी एक साइट् है shorte.st।
  2. कैप्चा सॉल्विंग करके(Captcha Solving) – अगर आपपार्ट टाइम पैसे कमाना चाहते हैं तो आपको ऑनलाइन कैप्चा सॉल्विंग जॉब(online captcha solving job) कर सकते हैं। आपने कई बार देखा होगा कि जब आप किसी साइट पर साइनअप करते हैं या कोई फॉर्म(form) भरते हैं तो आपने कैप्चा जरूर देखा होगा। कैप्चा सॉल्विंग साइट्स आपको 1000 कैप्चआ सॉल्व करने के लिए लगभग₹100 से ₹200 तक पेमेंट देती है। अगर आपकी टाइपिंग स्पीड(typing speed) अच्छी है तो आप इससे अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं। ऑनलाइन कैप्चा सॉल्व करने की कुछ अच्छी साइट है – Pixprofit, 2captcha, Protypers, Kolotibablo.
 हम उम्मीद करते हैं कि आपको आपके प्रश्न का जवाब मिल गया होगा कि ऑनलाइन(Online) पैसे कैसे कमाते हैं।अगर आपको अन्य कोई समस्या आती है या फिर आप इन सभी के बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके अपना प्रश्न पूछ सकते हैं। हम आपकी पूरी सहायता करेंगे।
Tnx

50 small business ideas in Hindi

6:19 PM 0
50 small business ideas in Hindi
50 Small business ideas in Hindi
50 small business ideas in Hindi
अगर आप एक नया काम या बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं और आपके पास सही आईडिया नहीं है या आपके मन में सवाल है की हम आखिर किस चीज का बिजनेस स्टार्ट करें तो आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। अक्सर लोगों के साथ ऐसा होता है कि वह अपना एक नया व्यापार (new business) चालू करना चाहते हैं परंतु अच्छे बिजनेस आईडियाज ना होने के कारण वह हताश हो जाते हैं। लोगों में यह भी धारणा होती है की आपको कोई नया काम शुरू करने के लिए खूब पैसा लगाना (Investment) पड़ता है। यह चीज हर जगह लागू नहीं होती। ऐसे बहुत सारे बिज़नेस होते हैं जो कम लागत (low investment) से भी किये जा सकते हैं। हम आपको यहाँ ऐसे 50 बिज़नेस आईडिया हिंदी में (50 best business ideas in Hindi) बताएंगे जो आप आसानी से कर सकते हैं और अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। इनमे से कुछ काम ऐसे हैं जो आप घर बैठे भी कर सकते हैं।
जब कम लागत वाले काम या बिज़नेस की बात आती है तो बहुत से लोगों को लगता है की इनमे मुनाफा भी कम होगा। यह बात एक हद तक सच है लेकिन आप छोटी शुरुआत कर के इन कामों को बहुत बड़ा बना सकते हैं। आइये जानते हैं ऐसे स्माल बिज़नेस आइडियाज के बारे में जिन्हे लघु उद्योग भी कहते हैं।
Table of Contents

कम लागत वाले व्यवसायों की लिस्ट हिंदी में (Small Business Ideas/Low Investment Business Ideas in Hindi)

नीचे दिए 50 आइडियाज से आप कम लागत (Low investment business ideas) में अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं:

1. सजावट का काम (Decoration business)

अगर आपके पास क्रिएटिव दिमाग (creative mind) है तो यह काम आपके लिए सबसे बेस्ट रहेगा। यह बहुत ही नया बिजनेस आइडिया है जो आजकल बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध होता जा रहा है। इस बिजनेस की खास बात यह है कि इसमें आपको ज्यादा कुछ इनवेस्टमेंट करने की जरूरत नहीं है। बस आपको अपने दिमाग का उपयोग करके जो भी आपका कस्टमर है उसके लिए डेकोरेशन(decoration) का काम करना होगा। डेकोरेशन का काम सीखना भी काफी आसान है। आप यूट्यूब से वीडियो देख कर आसानी से सीख सकते हैं की सजावट का काम कैसे किया जाता है। सजावट कई प्रकार की जगहों की हो सकती है जैसे घर, ऑफिस, स्कूल, इत्यादि।
डेकोरेशन का काम

2. घर में ट्यूशन पढ़ाने का व्यवसाय (Home tuition)

अगर आप किसी विषय में माहिर हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। आजकल गाँव हो या शहर हो सभी लोग पढ़ाई को लेकर जागरूक हो चुके हैं। हर जगह अच्छे टीचरों की कमी है, तो ऐसे में आप वहाँ के बच्चों को ट्यूशन पढ़ा कर उनका भला तो करेंगे और साथ-साथ अच्छी कमाई भी कर सकते हैं। होम ट्यूशन एक और भी अच्छा विकल्प है जिसमे आपको बच्चे के घर जा कर उसको पढ़ाना होता है। इससे आप ज्यादा फीस भी ले सकते हैं और जो बच्चे आपके पास आने में सक्षम नहीं है उनको भी मदद काफ़ी मिलेगी।

3. पुराना सामान खरीदने एवं बेचने का व्यवसाय (Buying & selling household goods)

इस व्यापार को शुरू करने के लिए आपको ज्यादा इनवेस्टमेंट करने की जरूरत नहीं होगी। पहले की तुलना में अब लोगों के घर में पहले से कहीं ज्यादा कबाड़ या पुराना सामान होता है। जिसका मुख्य कारण है उनके लाइफ़ स्टाइल (life style) में बदलाव। लोग अपनी लाइफ स्टाइल को चेंज करने के लिए हमेशा अपने घर को अपग्रेड करते रहते हैं जिसके कारण वह जो सामान पहले इस्तेमाल करते हैं वह उनके लिए कबाड़ बन जाता है। इसके अलावा कई ऐसे इलेक्ट्रॉनिक सामान (electronics) होते हैं जो कि जल्दी खराब हो जाते हैं या फिर टूट कर कबाड़ के रूप में बन जाते हैं, जो आपके लिए एक बहुत ही अच्छा अवसर प्रदान करता है आप यह कबाड़ बेहद सस्ते दामों में खरीद सकते हैं। फिर आप इससे बड़े तौर पर रिसाइकल सेंटर में बेचकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं या ऑनलाइन olx और quikr जैसी वेबसाइट पर बेचकर मुनाफा कमा सकते हैं। यह एक बेहतरीन बिज़नेस आईडिया है जिससे बहुत से लोग खूब पैसा बनाते हैं।

4. मुर्गी पालन का व्यवसाय (Poultry farming)

मुर्गी पालन का व्यवसाय आज के समय में बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है। पोल्ट्री फार्मिंग बिजनेस को आप एक छोटे दर्जे के बिजनेस में देख सकते हैं, जो आपकी जीवन बदलने की क्षमता रखता है। इसके लिए लगभग आपको 1 लाख रुपए की जरूरत पड़ेगी, जिसके बाद आपने अच्छे से मेहनत की तो यह बिजनेस बहुत ही तेजी से ग्रो (grow) करेगा क्योंकि दिन प्रतिदिन नॉन-वेज (non-veg) खाने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है, जिससे मुर्गियों की खपत भी (consumption) बढ़ती जा रही है। जो आपके लिए बहुत ही अच्छा मौका प्रदान करता है। यह एक ऐसा काम है जो आप दसवीं पास हैं तो भी कर सकते हैं।

5. आइसक्रीम बनाने का व्यवसाय (Ice-cream making)

यह व्यवसाय उन इलाकों के लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है जहाँ पर बच्चों की संख्या बहुत ही ज्यादा है क्योंकि आइसक्रीम बच्चों के लिए बहुत ही बड़ा आकर्षण का केंद्र होता है। अगर आपके इलाके में बच्चों की संख्या ज्यादा है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा बिजनेस बन सकता है। ऐसे में आपको कुछ इन्वेस्टमेंट करने की जरूरत होगी और साथ-साथ कुछ लोगों की जरूरत पड़ेगी जिसके बाद अगर आप का धंधा चल जाता है तो आप अपने घर से ही अच्छी खासी कमाई कर सकते है।

6. पॉपकॉर्न बनाने का व्यवसाय (Popcorn making)

अगर आप गांव में रहते हैं और एक छोटे स्तर पर व्यापार शुरू करने की सोच रहे हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प होगा क्योंकि पॉपकॉर्न बनाने के लिए मक्का की जरूरत होती है जो कि आसानी से गाँव में सस्ते रेट पर मिल जाती है जो कि आपके लिए प्लस पॉइंट होगा। इसके लिए बस आपको इसके पैकेजिंग को सीखना होगा जिसके बाद आप इसे शहर में बेचकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।
पॉपकॉर्न बनाने का व्यवसाय

7. पेपर प्लेट और कप बनाने का व्यवसाय (Paper plate & cup making)

कागज से बनाए हुए कप और प्लेट की मांग धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है क्योंकि सरकार ने प्लास्टिक से निर्मित सभी चीजों पर बैन लगा दिया है। जो आपके लिए एक बहुत ही अच्छा मौका प्रदान करता है, क्योंकि इसका इस्तेमाल ना सिर्फ रोडसाइड ढाबा और चाय की दुकान पर किया जाता है बल्कि विभिन्न कार्यक्रमों तथा बड़ी-बड़ी कंपनियों में भी होता है। यह बहुत ही कमाल का स्मॉल बिजनेस आइडिया है जो बहुत तेजी से ग्रो कर सकता है। जिसकी मदद से आप अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

8. रजाई एवं कंबल बनाने का व्यवसाय (Quilt & blanket making)

अगर सीजनल तौर पर देखें तो आपके लिए बहुत ही अच्छा व्यवसाय है, क्योंकि ठंडी के दिनों में रजाई, कंबल और गधों की मांग बढ़ जाती है, जो आपके लिए बहुत ही अच्छा अवसर प्रदान करती है क्योंकि इनकी जरूरत सभी को होती है। इसके लिए आपको बस यह सीखना होता है की कच्चा माल (raw material) सही दाम पर कैसे खरीदना होता है। फिर आप रजाई कंबल और गद्दे बनाकर भी अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

9. बिल्डिंग्स एवं घरों की पेंटिंग का काम (Building painting)

लोग हमेशा त्योहारों में, शादियों में अपने घर को पेंट करवाते रहते हैं। खासकर दिवाली के समय लगभग सभी लोग अपना घर पेंट करवाते हैं जो आपके इस बिजनेस के लिए प्लस पॉइंट बन जाता है। इस बिजनेस के लिए बस आप कुछ हेल्पर्स की जरूरत पड़ेगी और थोड़े से इन्वेस्टमेंट की जिसके बाद आप घरों की तथा बिल्डिंग्स की पेंटिंग कर के खूब कमाई कर सकते हैं।

10. हेयर सैलून खोलकर (Saloon)

यदि आप बाल काटना जानते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। आप कहीं पर भी हेयर सैलून की शॉप खोल कर पैसा कमा सकते हैं क्योंकि लोग तो हर जगह रहते हैं और ऐसे में उनके बाल बढ़ना मुलाजिम है। इसके लिए आपको थोड़ी इन्वेस्टमेंट की जरूरत होगी पर यह एक पुख्ता बिज़नेस आईडिया है।

11. कपड़ों में कढ़ाई का व्यवसाय (Embroidery)

आजकल हर कोई अच्छे और सुंदर कपड़े पहनना चाहता है क्योंकि लोग  उन्हें पहन कर आकर्षक दिखना चाहते हैं। खासकर औरतों को कढ़ाई वाले कपडे काफ़ी पसंद होते हैं। इसलिए कपड़ों पर कढ़ाई करने का व्यवसाय आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। खासकर उन हुनर मंद महिलाओं के लिए जो काम की तलाश में है। यह उनके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। जिसे घर बैठे भी किया जा सकता है।

12. ब्रेड बनाने का व्यवसाय (Bread making/bakery)

इस काम की शुरुआत अपने घर से भी कर सकते है। आजकल ब्रेड खाने वाले लोगों की गिनती बढ़ती जा रही है क्योंकि सबसे कम समय में तैयार होने वाला ब्रेकफास्ट कैटेगरी में आता है। अतः ब्रेड बनाने का बिजनेस आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। जिससे आप एक अच्छे औषत इन्वेस्टमेंट के साथ चालू कर सकते हैं।

13. जन औषधि केंद्र (Janaushadhi Kendra)

यह उन लोगों के लिए अच्छा विकल्प है जिनके पास लगभग 130 वर्ग फुट जमीन हो जिसमें वह अपनी दुकान बनाकर उसमें जन औषधि केंद्र खोल सकते हैं। इसके लिए आपको लगभग 2 से 3 लाख रुपए इंवेस्टमेंट की जरूरत पड़ेगी। ऐसे में आप सरकारी योजना के तहत जन औषधि केंद्र खोलने के लिए आवेदन कर सकते हैं और सरकार की मदद से अपना व्यापार शुरू कर सकते हैं।

14. जानवरों के खाने का उत्पाद (Animal feed)

एनिमल फीड को आप जानवरों का खाना कह सकते हैं जो कि अधिकांश डेरी तथा पोल्ट्री फार्म वाले इस्तेमाल करते हैं, जो आपके लिए एक अच्छा विकल्प प्रदान करती है अगर आप ऐसे क्षेत्र से संबंध रखते हैं जहाँ पर मुर्गी पालन तथा डेरी(dairy) का काम होता है। तो यह आपके लिए एक अच्छा विकल्प है।

15. मछली पालन का व्यापार (Fish farming)

अगर आप गाँव में रहते हैं और आपके पास एक छोटा सा तालाब है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। आप मछली पालन का व्यापार कर सकते हैं क्योंकि सरकार भी इसके लिए लोगों को प्रोत्साहित कर रही है और मछली पालन के लिए आपको बैंक से लोन भी मिल जाएगा। तो ऐसे में यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प बन जाता है।
मछली पालन का व्यापार

16. फोटो कॉपी और बुक बाइंडिंग का बिजनेस (Photo copy & book-binding)

अगर आपकी नजर में कोई ऐसी जगह है जिसके आसपास कोई शैक्षिक संस्थान या फिर कोई कोर्ट, कचहरी या तहसील हो तो आप वहाँ पर फोटो कॉपी तथा बुक बाइंडिंग का बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं। अगर सब कुछ सही रहा तो यह बिजनेस आप की अच्छी खासी कमाई कराने में योगदान दे सकता है।

17. मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान (Mobile repairing shop)

अगर आपके पास टेक्निकल हुनर(technical skills) है तो आपके लिए यह काम सबसे बेस्ट है। आजकल जैसे-जैसे मोबाइल फ़ोन्स की बिक्री बढ़ रही है उसी प्रकार से मोबाइल रिपेयर करने वालों की मांग भी बढ़ रही है। अगर आप इस कार्य में इंटरेस्टेड है तो सबसे पहले आपको मोबाइल रिपेयर करने का हुनर सीखना होगा। फिर आप आराम से मोबाइल रिपेयर करने का शॉप खोल सकते हैं और अपने हुनर के मदद से अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

18. ब्यूटी पार्लर खोलकर(Beauty parlour)

अगर आप एक महिला हैं और कार्य की तलाश में हैं तो यह आपके लिए एक बेहतरीन बिजनेस आइडिया है जो बहुत ही कम पूंजी (low investment) के साथ शुरू किया जा सकता है। सबसे पहले तो आपको इसके लिए ब्यूटीशियन कोर्स (beautician course) करना होगा और अगर आप 2 या 3 महीने अच्छे से इसको कर लेती हैं तब आप आराम से एक अच्छा सा ब्यूटी पार्लर खोल सकती हैं। ब्यूटी पार्लर को आप अपने घर में भी खोल सकती हैं इससे आपके पैसे की बचत होगी और समय की भी। यह एक बहुत ही बेहतरीन बिजनेस है क्योंकि दिन प्रतिदिन मेकअप का दौर बढ़ता जा रहा है। जिसके कारण ब्यूटी पार्लर काफी ट्रेंडी(trendy) और प्रॉफिटेबल(profitable) बिजनेस बन गया है।

19. होम कैंटीन (Home canteen)

आजकल लोग अपने ऑफिस के काम में इतना व्यस्त होते हैं कि उनके पास समय नहीं होता है कि वह अपने घर जाकर या कहीं बाहर जाकर भोजन करें और जैसे-जैसे ऑफिस की संख्या बढ़ रही है वैसे ही होम कैंटीन की मांग भी बढ़ रही है। आप एक होम कैंटीन खोल कर उनके लिए उनके ऑफिस तक खाना पहुंचा सकते हैं। जिसकी मदद से आप अपने घर से ही अच्छी-खासी आमदनी कर सकते हैं।

20. डीजे साउंड (DJ sound business)

डीजे साउंड सर्विस आज कल बहुत प्रचलित बिजनेस बनता जा रहा है। जब भी कोई पार्टी या बारात आदि होता है तो लोग अपने मनोरंजन के लिए डीजे मंगवाते हैं। ऐसे में यह आपके लिए एक अच्छा बिजनेस हो सकता है। जिससे आप अच्छा पैसे कमा सकते हैं। डीजे का काम शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको इसके उपकरण खरीदने होंगे जिसके बाद आप दो तीन व्यक्ति की मदद से आराम से अपने डीजे के बिजनेस को स्टार्ट कर सकते हैं।

21. इवेंट मैनेजमेंट (Event management)

इवेंट मैनेजिंग का काम भी आज के समय में एक बहुत ही अच्छा बिजनेस है। आजकल लगभग लोग शादी, जन्मदिन तथा छोटे बड़े मौके पर इवेंट ऑर्गेनाइज(event organise) कराते ही रहते हैं। ऐसे में लोगों को इवेंट का सारा काम खुद ही करना पड़ता है जिसके कारण वह इसकी व्यवस्था को अच्छे से संभाल नहीं पाते हैं। ऐसे में वह कोई ऐसा व्यक्ति खोजते हैं जो उनके लिए मैनेजमेंट का काम कर दे। तो यह आपके लिए एक अच्छा मौका बन जाता है। जिसके लिए आप एक आराम से इवेंट मैनेजमेंट बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इसमें आपको इवेंट मैनेजर बनकर इवेंट की पूरी व्यवस्था संभालना होता है। जिसके बाद आप किए गए अपने पूरे खर्चे पर अपना प्रॉफिट जोड़कर अपने कस्टमर से फीस लेते हैं। इस बिजनेस के लिए आपको कई लोगों की वर्कर(workers) के तौर पर जरूरत पड़ती है। जिन्हें आप भाड़े पर उठा सकते हैं जिससे आपको फीस पर बचत हो जाती है। यह एक बहुत ही अच्छा बिजनेस मॉडल है जो बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है।
इवेंट मैनेजमेंट

22. आचार एवं पापड़ का व्यवसाय (Pickle & papadum making)

आजकल अचार और पापड़ बनाने का भी बिजनेस बहुत ही प्रसिद्ध हो चुका है। खासकर यह औरतों के लिए बहुत ही अच्छा बिजनेस है। हर शहर, कस्बे और गाँव में यह बिजनेस बहुत तेजी से ही बढ़ता जा रहा है। इसकी शुरुआत आप ₹10000 के अंदर आराम से कर सकते हैं। आपके पास पैसे नहीं है तो आपको इस कार्य के लिए आपको आराम से बैंक से लोन भी मिल जाएगा। इसे शुरू करने के लिए आपको लगभग 4 से 6 व्यक्तियों की जरूरत होती है। इसे शुरू कर के घर की महिला और बेरोजगार व्यक्ति आत्मनिर्भर बन सकते हैं। इसके लिए आपको किसी अनुभवी डिस्ट्रीब्यूटर (distributor) से बात करनी होगी जिसके द्वारा आपका पापड़ पूरे शहर की दुकानों पर बेचा जाएगा। अगर आप सही कीमत और अच्छी क्वालिटी पर ध्यान देंगे तो आपका यह बिजनेस बहुत अच्छे तरीके से चल पड़ेगा और आप बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं। उदाहरण के तौर पर आज के समय में मशहूर लिज्जत पापड़ का बिजनेस सिर्फ ₹80 में शुरू हुआ था और अब यह बढ़कर 800 करोड़ रुपए से भी ज्यादा का हो गया है।

23. वाहन धोने का व्यवसाय (Vehicle washing business)

वाहन धोना एक बहुत ही अच्छा और सरल व्यवसाय है। आप अपने घर में भी एक व्हीकल वॉशिंग सॉप(Vehicle washing shop) खोल सकते हैं। इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए बस आपको सफाई की मशीन खरीदना होगा। आजकल तो लोग एक कार एवं बाइक को साफ़ करवाने के लिए ₹100 से ₹300 भी देते हैं। जिसकी मदद से आप एक दिन में अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

24. बागबानी या गार्डनिंग का व्यवसाय (Gardening)

अगर आप एक प्रकृति से प्रेम करने वाले व्यक्ति हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। बागबान या नर्सरी में कई प्रकार के पौधे व फूल लगाए जा सकते हैं जिसके बाद आप उन्हें बेचकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। यह आपको सिर्फ पैसे ही नहीं देगा बल्कि उसके साथ साथ आप को शान्ति भी प्रदान करेगा और प्रकृति की सुरक्षा के लिए यह आपका एक छोटा सा कदम भी होगा।
गार्डनिंग का व्यवसाय

25. चाक बनाने का व्यवसाय (Chalk making)

अगर आप एक छोटा बिजनेस की शुरुआत करने की सोच रहे हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है क्योंकि चौक का उपयोग तो लगभग सभी शैक्षिक संस्थाओं में किया जाता है, जो आपके लिए एक बहुत ही अच्छा अवसर प्रदान करता है। चाक मुख्यतः प्लास्टर ऑफ पेरिस से बनता है जो मार्केट में आसानी से उपलब्ध हो जाता है। ऐसे में अगर आप गांव में रहते हैं और कोई छोटा बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो यह आपके लिए अच्छा विकल्प है।

26. एटीएम लगवा कर कमाई (ATM installation)

अगर आपके पास 100 वर्ग फुट की जमीन है और एक अच्छे भीड़-भाड़ वाले इलाके में है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। इसे आप छोटे बिजनेस के तौर पर भी शुरू कर के हर महीने 15 से 40 हजार रुपए तक कमा सकते हैं। इसके लिए आपको यह पता करना होगा कि आपके इलाके में ऐसा कौन सा बैंक है जिसका एटीएम मौजूद नहीं है। उसके बाद आप उस बैंक से उसकी आवश्यकता के बारे में पता कर सकते हैं या फिर यह आप ऑनलाइन या डायरेक्ट बैंक जाकर भी कर सकते हैं। अगर बैंक को जरूरत समझ में आएगी तो बैंक आपके जगह पर एटीएम लगा देगा और आपको किराये(rent) के तौर पर 15 से 40 हजार रुपए हर महीने मिलेंगे।

27. इंसुरेंस मार्केटिंग फर्म (Insurance marketing firm)

इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए लगभग आपको 10 लाख रुपए तक का खर्चा आ सकता है। इससे आप मध्यमवर्ग के बिजनेस के रूप में देख सकते हैं। इंसुरेंस मार्केटिंग फर्म का बिजनेस शुरू करने के लिए आप को भारतीय बीमा विनियामक प्राधिकरण आईआरडीए(IRDA) आमंत्रित कर रहा है जो आपके लिए बहुत एक अच्छा अवसर है।

28. इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का रिपेयर करने का व्यवसाय (Electornics repairing)

आजकल जैसे-जैसे जमाना बदल रहा है वैसे ही इलेक्ट्रॉनिक सामानों की मांग भी बढ़ रही है। ऐसे में कुछ समय के बाद उनका बिगड़ जाना भी निश्चित ही है जो कि आपके लिए बहुत ही अच्छा अवसर प्रदान कर रही है। अगर आपके पास टेक्निकल ज्ञान है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। ऐसे में आप इलेक्ट्रॉनिक्स सामान रिपेयर करने वाला दुकान खोलकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

29. सोशल मीडिया एक्सपर्ट (Social media expert)

अगर आपको सोशल मीडिया के बारे में अच्छी खासी जानकारी है और आपका फैन फॉलोइंग (fan following) भी अच्छा खासा है तो यह आपके लिए एक अच्छा विकल्प है। ऐसे में आपकी सोशल मीडिया पर पकड़ और ज्ञान एक अच्छे रूप में निखर कर बाहर आ सकती है क्योंकि बड़ी बड़ी कंपनियां अपने उत्पादों को सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने के लिए ऐसे लोगों को खोजती हैजिनकी सोशल मीडिया पर पकड़ अच्छी खासी होती है। ऐसे में यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प बन सकता है और आमदनी का जरिया भी।
सोशल मीडिया एक्सपर्ट

30. ग्राफिक डिजाइनिंग (Graphic designing)

अगर आपके पास एक क्रिएटिव माइंड (creative mind) है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। इसका स्कोप दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। आप ग्राफ़िक डिजाइनिंग की मदद से पोस्टर, चार्ट आदि बनाकर लोगों को बेच सकते हैं और इसे अपनी कमाई का जरिया भी बना सकते हैं।

31. किराना की दुकान (Grocery shop)

दुकान हमेशा से ही एक अच्छा बिजनेस का विकल्प रहा है। इस बिजनेस के सबसे खास बात है कि इसके लिए आप को किसी स्पेशल टैलेंट की जरूरत नहीं पड़ती है। बस आपको थोड़ा सा इनवेस्टमेंट करने की जरूरत है और सब कुछ सही रहा तो आपका या बिजनेस अच्छे तरीके से ग्रो करेगा।

32. रियल एस्टेट सर्विसेज (Real estate services)

आजकल हर व्यक्ति अपने खुद का घर खरीदना चाहता है या फिर एक अच्छे से प्लॉट देख कर उस पर घर बनाना चाहता है। ऐसे में आप रियल एस्टेट एजेंसी खोल कर इन कामों में उसकी मदद कर सकते हैं। रियल स्टेट एजेंट्स का काम होता है कि वह अपने ग्राहक को उसकी प्रॉपर्टी चुनने में मदद करता है और कमीशन के द्वारा पर उससे एक से दो पर्सेंट कमीशन लेता है। इसके लिए आपको बस सभी प्रकार के प्रॉपर्टी और प्लॉट की डिटेल्स निकाल कर जमा करनी होगी और फिर प्रॉपर्टी ओनर से संपर्क बनाए रखना होगा। इसके बाद अगर किसी कस्टमर को प्लॉट या जमीन चाहिए होगी तो वह आप से संपर्क करेगा।

33. जिम एवं हेल्थ क्लब का बिजनेस (Gym & health club)

आजकल चाहे महिला हो या पुरुष हर कोई स्वस्थ रहना चाहता है। जिसके लिए वह हेल्थ क्लब या जिम जाते हैं। आप भी किसी अच्छे से एरिया में हेल्थ क्लब या जिम खोलकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। इसके लिए आप छोटे स्तर पर शुरुआत कर सकते हैं व धीरे धीरे इसे बड़ा बना सकते हैं।
जिम एवं हेल्थ क्लब का बिजनेस

34. प्रोफेशनल फ्रीलांस (Professional freelance)

फ्रीलांसिंग का मतलब होता है किसी और के लिए कोई काम करना जिसके लिए वह आपको पे करता है अगर आपके पास वेब डिजाइनिंग, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट, राइटिंग, फोटो एडिटिंग, ट्रांसलेशन इत्यादि या अन्य कोई टैलेंट है तो आप आसानी से प्रोफेशनल फ्रीलांसर्स बन कर पैसे कमा सकते हैं। आपको ऐसी बहुत सी साइट्स मिल जाएँगी जहाँ आप अपनी सर्विसेज को बेच सकते हैं।

35. इंटीरियर डेकोरेटर (Interior decorator)

आजकल हर कोई अपने घर को सुंदर दिखाना चाहता है जिससे उसके घर पर आने वाले लोगों पर अच्छा इंप्रेशन पड़े। इसके लिए अक्सर लोग इंटीरियर डेकोरेटर्स को हायर करते हैं। ऐसे में यह आपके लिए एक अच्छा विकल्प बन जाता है। अगर आपके पास टैलेंट है तो आप इंटीरियर डिजाइनिंग का बिजनेस शुरू कर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

36. बेकरी बिजनेस (Bakery business)

बेकरी भी एक बहुत ही अच्छा और लम्बा चलने वाला(long-term) बिजनेस है। बेकरी की शुरुआत करने के लिए आपको ज्यादा इनवेस्टमेंट करने की जरूरत नहीं होती है। बेक्री की शुरुआत आप आसानी से कर सकते हैं तथा इसमें आप कई तरह के सामान जैसे कि टोस्ट, बिस्किट्स इत्यादि बनाकर अपने पास के मार्केट में सप्लाई करके आसानी से पैसे कमा सकत हैं।

37. मोमबत्ती बनाने का व्यवसाय (Candle making)

आजकल मार्केट में मोमबत्ती की बहुत ज्यादा डिमांड है। आजकल शादि, पार्टी, फेस्टिवल आदि में लोग मोमबत्ती का इस्तेमाल डेकोरेशन के लिए करते हैं। ऐसे में यह आपके लिए एक अच्छा विकल्प बन जाता है। मोमबत्ती बनाने की बिजनेस की शुरुआत आप बहुत ही कम इन्वेस्टमेंट के साथ कर सकते हैं।

38. अगरबत्ती बनाने का बिजनेस (Incense stick making)

यह बिजनेस बहुत ही कम लागत में अधिक लाभ देने वाला बिजनेस आइडिया (low investment high return business idea) है क्योंकि अगरबत्ती का इस्तेमाल लगभग सभी लोग करते हैं। ऐसे में यह आपके लिए एक अच्छा विकल्प बन जाता है। आप अगरबत्ती बनाने के तरीके को आराम से इंटरनेट से सीख सकते हैं और इस बिजनेस की शुरुआत छोटी इन्वेस्टमेंट के साथ कर सकते हैं।

39. कार्ड छपाई का व्यापार (Card printing)

आजकल लगभग सभी लोग छोटे से छोटे या बड़े से बड़े कार्यक्रम के लिए इनविटेशन कार्ड (Invitation card) जरूर छपवाते हैं। ऐसे में यह व्यापार आजकल बहुत ज्यादा ट्रेंडी हो चुका है। ऐसे में अगर आपको प्रिंटिंग मशीन और डिजाइनिंग के बारे में आईडिया है तो यह व्यापार आपके लिए अच्छा विकल्प है जिसकी मदद से आप बहुत सारे पैसे कमा सकते हैं।

40. छोटा फास्ट फूड का व्यापार (Fast food)

आज के समय में यह व्यापार बहुत ही तेजी से आगे बढ़ रहा है। अगर आप खाने बनाने में एक्सपर्ट है तो यह आपके लिए अच्छा विकल्प है। आप अपने एरिया में फूड आइटम्स जैसे कि बर्गर एग रोल, नूडल्स, मंचूरियन इत्यादि बनाकर बेच के अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। बस आपको फास्ट फूड बनाने के लिए एक छोटे से शॉप और इनग्रेडिएंट्स(ingridients) की जरूरत पड़ेगी जिसके बाद आप इस बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं।

41. कार्पेंट्री (Carpentry)

यह भी एक बहुत ही तेजी से बढ़ने वाला व्यापार है। अगर आपके पास कार्पेंट्री का टैलेंट है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। लकड़ी के फर्नीचर बनाना भी एक बहुत ही बड़ा कला है। अगर आपस में माहिर है तो आप उसकी मदद से बहुत ही अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। आज के समय में आप अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए ऑनलाइन समान भी सेल कर सकते हैं।

42. जूस की दुकान (Juice shop)

जूस सबको पसंद होते हैं। ऐसे में यह आपके लिए अच्छा बिजनेस का विकल्प है। आपने शायद ही ऐसी कोई जूस की दूकान देखी होगी जो खाली हो क्योंकि यह हमेशा डिमांड में रहता है। ऐसे में आप जूस की दुकान खोलकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

43. साइबर कैफे खोलकर (Cyber cafe)

जैसा कि हम सभी जानते हैं हर व्यक्ति के पास कंप्यूटर नहीं होता है। ऐसे में अगर उन्हें कंप्यूटर की जरूरत होती है तो वह साइबर कैफे जाते हैं। साइबर कैफे खोलने के लिए आपको थोड़ा इन्वेस्टमेंट करना पड़ेगा जिससे आप कंप्यूटर खरीद कर अपने साइबर कैफे में लगा सके। जिसके बाद आप अपने साइबर कैफे में आने वाले लोगों से घंटे के हिसाब से पैसा चार्ज कर सकते हैं और अच्छा खासा पैसा भी कमा सकते है। इसके साथ आप फोटो कॉपी और फॉर्म भरने की सुविधा भी दे सकते हैं।

44. बिंदी बनाने का व्यवसाय

यह छोटे दर्जे का बिजनेस है जो बहुत ही कम इन्वेस्टमेंट पर शुरू किया जा सकता है। यह महिलाओं के लिए एक अच्छा बिजनेस आइडिया है। बिंदी बनाने के लिए कच्चा माल जैसे कि मखमली कपड़ा, गोंद, विभिन्न प्रकार के पत्थर जैसे रूबी, सैफायर, क्रिस्टल, मोती जैसे चीजों की जरूरत होती है अगर आप इन सभी चीजों को अच्छे रेट पर खरीद सकते हैं तो आप चंद लोगों की मदद से इस बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं।

45. योग कक्षा (Yoga Classes)

अगर आप एक स्वस्थ और फिट व्यक्ति हैं तो आपको योगा के बारे में कुछ ना कुछ तो ज्ञान जरूर होगा। आप अच्छे से योगा सीख कर अपना योगा क्लास खोल सकते हैं और इससे अच्छी खासी कमाई भी कर सकते हैं। आज के दौर में योगा कई व्यक्तियों का ध्यान आकर्षित करता है जिसके कारण योगा टीचर बनना एक नया प्रोफेशन है। आप अपने घर में भी आराम से योगा क्लासेस खोल सकते हैं और इसमें आपको कम इन्वेस्टमेंट की आवश्यकता है। यदि आप हर स्टूडेंट से मात्र ₹300 चार्ज करते हैं तो आप महीने में अच्छी खासी कमाई कर सकते है।
योग कक्षा

46. ऑनलाइन ट्यूशन क्लासेस(Tution Classes)

अगर आप किसी भी विषय के जानकार है तो आप उस विषय को पढ़ा कर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको ऑनलाइन ट्यूशन क्लासेस खोलना होगा। जो कि आप अपने घर पर भी खोल सकते हैं और उसका थोड़ा सा एडवर्टाइजमेंट भी करना होगा ताकि लोग जाने कि आप इस जगह पर ट्यूशन पढ़ा रहे हैं। अगर आप दिन में 2 घंटे भी अच्छे से पढ़ाते हैं तो आप महीने में अच्छे से 15 से 20 हजार रुपे तक की कमाई कर सकते हैं। ऐसी बहुत साड़ी वेबसाइट हैं जिनसे आप पढ़ा कर ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं।

47. यूट्यूब द्वारा (YouTube videos)

आप अपने खाली समय में यूट्यूब के द्वारा भी अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको यूट्यूब पर अपना एक चैनल बनाना होगा। जिसके बाद आप अपने चैनल पर उनसे रिलेटेड वीडियोस (related videos) को डाल सकते हैं जिन क्षेत्र में आप माहिर है। फिर जब आपके चैनल पर 1000 सब्सक्राइबर और 4000 घंटे का वॉच टाइम हो जाएगा तो आप अपने चैनल को मोनेटाइज(monetise) कर आराम से पैसे कमा सकते हैं। जिसके बाद आपके चैनल पर Ads आना चालू हो जाएंगे और आपको उसके लिए पेमेंट मिलेगा।

48. ब्लॉगिंग बिजनेस (Blogging)

ब्लॉगिंग भी एक बहुत ही अच्छा पैसा कमाने का जरिया है। अगर आप अच्छा लिखते हैं और किसी क्षेत्र में माहिर हैं तो आप अपने काम को लिखकर लोगों के सामने पेश कर सकते हैं और अपना वेबसाइट बना कर के इस पर डाल सकते हैं। इसकी शुरुआत तो धीमी होगी परंतु कुछ समय के बाद परिवर्तन जरूर आएगा। आप अपना कुछ समय देकर इसे पार्ट टाइम करके अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। इसकी सबसे खास बात यह है की ब्लॉगिंग करने के लिए आपको बहुत ही कम इन्वेस्टमेंट करने की जरूरत होती है। बस इसमें आपको एक अच्छे और क्रिएटिव दिमाग की जरूरत होगी।

49. नाश्ते की दुकान का व्यवसाय (Breakfast shop)

ब्रेकफास्ट शॉप बिजनेस आजकल एक बहुत ही अच्छा बिजनेस बन गया है  और लोगों के बीच चर्चित भी होता जा रहा है क्योंकि आजकल इस भागदौड़ की जिंदगी में लोग बाहर रहते हैं और जॉब करते हैं। तो उनके पास इतना समय नहीं होता है कि वह अपने काम के साथ साथ अपना ब्रेकफास्ट बनाएं। जिसकी वजह से वह अपना नाश्ता बाहर करते हैं और कई लोग ऐसे भी होते हैं जो अपने काम के लिए देर होने के कारण ब्रेकफास्ट बाहर करते हैं। तो ऐसे में यह बिजनेस आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। आप अपने ब्रेकफास्ट की दुकान ₹10000 के अंदर आराम से खुल सकते हैं और इस की सबसे खास बात यह है कि इसमें आपको बस सुबह के कुछ घंटे देने होंगे और आप इसकी मदद से अच्छी खासी कमाई भी कर सकते हैं। इसी का एक बहुत ही अच्छा उद्धरण है पोहे की दूकान।

50. सरकारी नौकरी का फॉर्म भर कर

आजकल यह काम भी बहुत प्रचलन में है। इस काम के लिए बस आपको एक कंप्यूटर और प्रिंटर की जरूरत होगी जिसके लिए आपको लगभग ₹30,000 निवेश करना होगा जिसके बाद आप लोगों के फॉर्म भर कर आसानी से पैसे कमा सकते हैं और दिन के कम से कम हजार रुपए कमा सकते हैं। यह काम साइबर कैफ़े से काफ़ी मिलता जुलता है और कंप्यूटर के साथ आप फोटो कॉपी व लामिनाशन जैसी सेवायें दे कर एक्स्ट्रा कमाई भी कर सकते हैं।
हम उम्मीद करते हैं कि अगर आप एक नया बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं तो यह स्माल बिज़नेस आइडियाज (small business ideas) आपके लिए मददगार साबित होंगे। बस एक बात का ध्यान रखें कि किसी भी बिजनेस को सेटल (settle) होने में कुछ समय का वक़्त जरूर लगता है और वहीँ अगर कोई बिजनेस अच्छी तरीके से सेटल हो जाता है तो आपको ढेर सारा मुनाफा देता है। ऐसे में आपको अपने बिजनेस पर अच्छा वक्त देना चाहिए। अतः अगर आपको इससे रिलेटेड अन्य कोई समस्या होती है या आपके मन में अन्य कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं हम आपकी पूरी मदद करेंगे।

Sunday, October 13, 2019

PAN card lost or damaged? Don't worry, just order a reprint online for ₹50

11:34 PM 0
PAN card lost or damaged? Don't worry, just order a reprint online for ₹50

NEW DELHI : Often used as an identity document for various purposes, the laminated PAN (Permanent Account Number) card is a vital document that can fit easily into most wallets. In case you have lost your PAN card or it is damaged or you would just like to have another copy of it, you can simply order a reprint online.
The income tax department issues PAN cards through UTITSL or NSDL-TIN. Depending on which agency had issued your PAN card, you can approach either of them to get a reprint of your document.
How to order reprint of PAN card:You can go to the online portals of NSDL and UTITSL and look for "Reprint PAN Card" option. This facility allows you to get another copy of the PAN card delivered to your home. Use it when you do not want any changes to be made in your existing PAN card data.
Reprint of PAN card can be ordered through the portal;s of both UTITSL and NSDL.
Reprint of PAN card can be ordered through the portal;s of both UTITSL and NSDL.
Both the agencies charges a fee of 50 for delivery to an Indian address and those outside of India can get it for 959. You need to check the address mentioned in the income tax department's records as your PAN card will be delivered only to that communication address.
While applying, you need to give your PAN card number and date of birth. NSDL also asks your Aadhaar card number as it is mandatory to link PAN and Aadhaar.
e-PAN card:According to amended income tax rules, you actually do not need a hard copy of the PAN card as a soft copy, but not scanned images, are as good. Both UTITSL and NSDL-TIN issues e-PAN to both new and old PAN card holders. The PDF file issued by the income tax department is to be treated at par with physical copies of the PAN card. Aadhaar cards are also similar to PAN cards in this respect
x

How to Create a Blog

10:30 PM 0
How to Create a Blog
This guide takes you through the steps of creating a blog. It is targeted at the beginner and layperson, and as such is written in plain English and makes no assumptions that you know anything (other than how to use a web browser, since you are already using one to read this tutorial).
For those who are not sure what a "blog" is, it is a type of website where its authors write about any topic they feel like, in articles (often called "posts" in blog jargon) of whatever length they want. The writing is frequently informal, and blogs are sometimes seen as a sort of online diary. In fact, the word "blog" was originally derived from "web log" (ie, "weblog") Typically, visitors to the blog can also leave comments at the foot of each article. Blogs are often created with a special type of software called, unsurprisingly, blog software which handle all the functions needed by the person(s) writing the blog.
Incidentally, the above is just a generalized explanation of what a blog is. It is by no means prescriptive. That is, although blogs are sometimes used as diaries by their owners, you do not have to use it that way. For example, some businesses also maintain a blog where they announce new developments and interact with their customers.
Note that this article specifically deals with the creation of a blog. If you want to design some other type of website (eg, shopping site, company website, software site, etc), please see my more general guide How to Create a Website. You can also find more information on the different ways of creating a site from What's the Difference Between a Content Management System (CMS), a Blog, a Web Editor and an Online Site Builder?

Get a Domain Name

The first thing you will need to do is to get a domain name for your blog. A domain name is basically the address of a website, the way "thesitewizard.com" is the address of this site. It is obtained by going to a domain registrar and paying them an annual fee for the right to use that name. It's just a name, though. Getting it doesn't mean that you automatically have a blog. It is like registering a business name in the brick and mortar world, where obtaining a name doesn't mean that you automatically get shop premises to go with it.
While it's possible to start a blog without getting a domain, there are serious negative consequences in the long term if you do so. I have written at length about it in my article Is it Possible to Create a Website Without Buying a Domain Name? The High Price of "Free", and you can read more about it if you're interested.
Otherwise, steps on how to get a domain name can be found in my guide on How to Register a Domain Name. If you want to find out more about domain names before committing to one, please see my list of frequently asked questions about domains, which include tips on choosing a good domain as well as noting some precautions to take before buying one.

Get a Web Host

The next thing you will need to do is to sign up for an account with a web host. If getting a domain name is analogous to registering a business name in the brick and mortar world, then getting a web host is the equivalent of renting shop premises for your company. The web host provides the computers, called web servers, on which you will set up your blog. These computers are permanently connected to the Internet and run specialized software (confusingly, also called "web servers") which are able to deliver your articles to anyone who visits your blog.
There are numerous web hosts around. Since you will be setting up a blog, you will need one that provides the facilities for you to do so. This means that you must get one that allows you to run PHP scripts (What are PHP scripts?) and create a MySQL database (What is a MySQL database?). In practice, most, if not all, commercial web hosts provide these in one or more of their packages. For example, these features are standard on even the smallest (cheapest) plan on the web host that I'm currently using.
Many web hosts also have additional features that make it easy for you to set up a blog. These go by many names, but essentially they allow you to skip manual installation of the software by simply going to their web interface and clicking a few buttons. Their site then does the installation for you. Some call it an app installer, others an app centre (or "center" if you use a different variant of English), WordPress installer, and so on. They are not actually essential, since you can just do it yourself, but I mention it here in case you encounter this when shopping around. This guide does not depend on you having such facilities, so if your web host doesn't provide it, don't worry. It's not a big deal.
Another thing to note is that a few web hosts also offer a specialized blog hosting package. They may call it "WordPress Hosting" or something to that effect. For those wondering, WordPress is the brand of a blog software, one of many, and probably the most popular at the time I write this. If you sign up for a web host's special blog hosting plan, the blog software will be preinstalled on your website. You won't need to install it yourself, but then, you will also not be able to use any other blog software (and most other programs, for that matter) on your site should you wish. You can only use the preinstalled WordPress (or whatever blog program they offer). Actually, there's more to it than this. If you want to learn more, please see my article detailing the pros and cons of signing up for a specialized blog hosting plan.
After you have signed up with a web host, you will need to point your domain name to your blog, so that in the future, any one who enters your domain name into their browser will end up at your site.

Create a Database on Your Web Host

Before you can install your blog software, you will need to create a database. If you are wondering what this mysterious "database" thing is, please read What is MySQL? What is a Database? What is SQL?.
If you have opted for a WordPress hosting plan (or whatever the specialized blog hosting package is called on your web host), you can skip this step. The database will automatically be created for you in such a case.
Otherwise, you will have to do it yourself. This actually isn't as difficult as it sounds, since it only involves logging into your web hosting account and clicking a few buttons and the like. In general, commercial web hosts don't automatically create a database for you, since not all websites need one. They don't want to waste resources by allocating space for sites that don't want it.
  1. Although the method to create a database varies from web host to web host, on all the web hosts that I have used in the past, it has invariably required me to log into my web host's control panel. Don't be intimidated by the name "control panel". It's just a grandiose name for the online interface to your web hosting account, which you access with your web browser. It allows you to do things like create new email accounts for your domain, change passwords, create databases, password-protect directories and other administrative things.
    Find out from your web host how to access the control panel. The latter is referred to by different names on different hosts. For example, on thesitewizard.com's web host, it is called CNC (which, I assume, stands for "Command and Control"). On another web host, it is called the "Account Control Center". There is also a generic control panel used by many web hosts called CPanel.
    Whatever it's called, log into it before going on to the next step.
  2. Once in the control panel, look for a link or icon called "MySQL Databases", "MySQL Manager", "MySQL Database Wizard", "Database" or words to that effect. I can't be specific about this because the exact wording depends on the web host that you're using. (And even if I could, my description will eventually become out-of-date, since web hosts, like all webmasters, change their site design from time to time.) Once you find the relevant link or icon, Click it.
  3. Find a link or section that says "Create New Database", "New Database" or "Create a MySQL database" and go to it.
  4. You will be asked to give the database a name. In general, the name must be unique on that particular web host. That is, no other website on that host can have the same name (otherwise those websites will be accessing the same database as you). Some web hosts enforce this by giving your database a prefix. For example, if their prefix is "thesitewizard_" and you type in "mydatabase", the final name you get will be "thesitewizard_mydatabase". (Note that this is just an example. The web host may not necessarily use your domain as the prefix.) There are also hosts that don't automatically supply a prefix. For those, you'll probably just have to enter a name and wait for their system to tell you if it's available. I guess it's similar to the situation when you apply for a new email address at some free email provider like Gmail; you enter a name and hope that no one has taken it before you. If someone has, then you will be asked to give a different name instead.
    The actual name itself is not too important, so don't obsess over it. It's not the name of your blog, nor is it visible to others. Just call it whatever you want. Note that the name is not the password, so you don't really need to give it some super-cryptic sequence of characters.
  5. The control panel will ask you to set a password for the database as well. For some web hosts, you will also have to create a user name as well. (Other web hosts use your existing user name.) This user name and password combination is needed for your blog software to access the database, to store and retrieve your blog posts and visitors' comments.
  6. Once you have completed all the needed fields, click the button on the page that activates, creates or adds the database. (There'll usually be some button on that page, under all the fields you just entered, that you will have to click to submit your request. It'll probably say "Create the database", "Activate database", "Add a database" or maybe even something non-specific like "Submit".)

Install the Blog Software

If you have a specialized blog hosting plan, skip this section. The blog software has already been installed for you. At this point, some of you may be thinking that the previous sentence sounded really good, since it's nice to have everything already done for you. If so, remember that there are disadvantages as well, and you'll lose out when configuring your blog and throughout its life, for as long as your blog is on that plan. (It's a trade-off. You win some, you lose some.)
In addition, as mentioned earlier, some web hosts have an "app installer" (or whatever they call it) that will let you install blog software like WordPress into your account by clicking a button or two in the control panel. Since app installers are different from web host to web host, if you choose this route, you will have to follow the instructions given by that web host on installing the software. If the web host provides you with lots of software to install, and you don't know which one is actually the blog software, look for an icon or link that says "Install WordPress" or "WordPress".
If none of the above situations apply to you, or you don't want to use your web host's app installer, you will need to choose and install a blog program. I mentioned before that there are many free blog software around. There are also many free Content Management Systems (CMS) that can also be used for blogging. (Those puzzled about how they differ should read my aforementioned article describing their differences.)
For absolute newcomers who can't decide, just choose what the majority of bloggers apparently use these days, namely WordPress. Its popularity has a certain advantage in that there are a lot of free designs (called "themes") and plugins (that extend the functionality of the blog) available for it. And at the time I write this, the software is also actively updated, which is vital for a blog program, since it means that security holes in the software will be fixed as soon as the developers learn of it.
If you choose to use WordPress, follow my guide on how to obtain and install WordPress. As I said, the software is free.

Securing Your Blog

While it's true that all websites are vulnerable to being hacked, since they are just sitting there exposed on the Internet, blogs are more vulnerable than normal websites created using a web editor. In the case of the latter, the software that lets the webmaster make changes to the website is on his/her own computer. Bugs in that software can only be exploited if the attacker somehow invades the webmaster's personal computer. Blog software, however, are on the Internet itself, directly accessible to the hacker 24 hours a day, every day. Any vulnerability or exploitable bug automatically means that someone can modify your blog to do his/her bidding.
As such, it is very important that you secure your blog properly. If you use WordPress, some suggestions on how to make your blog less vulnerable can be found in How to Secure Your WordPress Blog.

Customizing Your Blog

Blog software usually provide you with numerous settings which you can change to make the blog operate the way you want it to. For WordPress, these settings are exposed to you when you log in.
  • Theme

    All blog programs (that I have used before) provide at least 1 theme that you can use out-of-the-box. A theme, for those who are not familiar with the terminology, is merely the design of your blog. WordPress, for instance, at the time I write this, ships with 3 themes (ie, 3 different designs) that you can choose from. These themes can be customized from within the WordPress interface. For example, to swap to a different theme, click "Appearance" from the side column and "Themes" from the submenu that appears. To change the colours ("colors") of a particular theme, click the "Customize" submenu item in the Appearance menu. You can also change the pictures used, add menus, add and remove the elements you don't want (such as the link to the login screen, list of recent comments, etc).
    If the default themes do not appeal to you, popular blog software often have numerous third party themes available that you can install. These are alternative designs made by other people. Some of them are "premium" themes, meaning that you have to pay to use them. Others are free. These themes can typically be found at the blog software site itself. Where WordPress is concerned, you can find them at this location.
    If you are using a specialized blog host, you may or may not be able to install your own themes. That is, you may only be able to choose from those themes that are preinstalled for you.
  • Plugins

    Besides the appearance of your site, WordPress (and possibly also the other blog software) can be extended using something known as "plugins". The latter are simply additions to the WordPress program that add some functionality or other. If you find yourself wishing that WordPress did such-and-such a thing, you may be able to find that feature provided in a plugin. Like themes, there are plugins that are free and those that have to be paid for, as well as "freemium" ones, where some features are free while others can only be unlocked on payment of a fee.
    Incidentally, before you go berserk installing a whole slew of themes and plugins on your site, be aware that these additions to your site run with the same privileges and power as the WordPress software (or whatever blog software you're using) itself. Any bug or vulnerability in them has the same effect as a bug or vulnerability in the main program. In addition, some plugins have been known to slow your site down tremendously. As with all things, caveat emptor.
    If you use a specialized blog host, you may not be able to install your own plugins, but have to choose from those that are preinstalled for you.
  • For WordPress Users: About Visitor Comments

    If you use WordPress, before you blog, you may want to take a look at a few settings. This can be found by clicking "Settings" in the side column and "Discussion" in the menu that appears.
    By default, WordPress is set up to allow anyone to post a comment. If you want to approve every comment before allowing it to go "live" on your blog, put a tick in the box "Comment must be manually approved". There are also other settings that you can change from that screen that affect commenting, including screening for URLs (web addresses) and even a word filter that you can use to block words you don't want appearing in comments. Before you dismiss this paragraph as unnecessary for your blog, you should be aware that the moment your blog goes "live", it will become the target of spammers who use automated software to dump spam linking to their site/products. If you don't find some way to manage it, your blog will become a rubbish heap of spam.
    Some people deal with the problem by manually approving every comment. Others install anti-spam plugins. There are different types around, such as those that check new comments against a database of comments made on every site using that plugin, as well as those that present a "CAPTCHA" test to distinguish between humans and automated spam software. You can also do both: that is, install some anti-spam plugin and manually approve every comment.
    For those who choose to go the purely manual route, note that some spam comments are very subtle, appearing almost like the genuine article, and it's easy to be fooled. (I speak from experience.) You should be suspicious of any comment that has a web address in it, whether it is in the "Website URL" field or in the comment itself, or both.
  • Other Settings

    There are undoubtedly other settings that you will want to customize. For WordPress, this can be found in the "Settings" menu in the side column when you log into your dashboard. For example, you can even control the web addresses (ie, URLs) of your posts, by going to the "Permalinks" submenu of "Settings".

Start Blogging

Once you're satisfied with your customizations, you can make your first post. Since you have elected to use blog software, this is done from the blog interface itself. That is, just log in, and write your post or article, then click the button to publish it. You can create categories for each post if you wish, or just leave everything in the default category if you can't be bothered. After all, it's your blog. You can do as you like.

Backing up Your Blog

One of the most important things to do is to back up your blog. You should make a back up every time you make a new post. If you post infrequently but reguarly receive visitor comments that you value, you should also make a periodic backup (eg daily, weekly, monthly or whatever, depending on the how many new comments you receive and whether you consider them important enough to preserve) even if you don't post anything new, so that those are not lost if either your blog is hacked or if your web host's system crashes.
Do not simply overwrite your old backups with the new ones. Name each backup with the date you made it, and keep it in addition to the ones you made earlier. For example, you can put each backup set in its own folder and name the folder "Backup on 16 January 2018" or something like that. Try to keep each backup for at least a few months. This is important because blogs are favourite targets of hackers. And some of the hacks are well hidden. You may not detect that your blog has been hacked till many months have passed. As such, your most recent backup may already contain the malware that they installed into the system. Restoring from that backup won't do you any good. You may have to go back many months to find a clean copy.
Do not rely on your web host's backup. Web hosts have different priorities than you, and their backups proceed according to a different schedule. That is, it may not contain your latest posts or visitor comments. Nor do they necessarily have backups that go as far back as needed to get a clean (malware-free) copy of your site.
Note that this section applies to you whether you have installed blog software manually or you are using a blog host.

Making Money

If you are looking for a way to earn money by putting up advertisements on your site, see my articles How to Make Money From Your Website and the follow-up How to Increase Your Website Revenue from Affiliate Programs. If you want to put things like Google AdSense on every page, you will probably want to look for a plugin that does it automatically for you (in addition to signing up with the AdSense program, of course).
Those who want to sell products or services on their blogs may also be interested in my article on How to Accept Credit Cards on Your Website.
If you are using a blog host, you may not be able to put advertisements or affiliate links on your blog, particularly if you use a free blog host. Commercial ones, where you pay for your account, may not have this restriction.

Promoting Your Blog

When you have posted your first article, you can submit the blog to the search engines. This can be done by creating a webmaster account at both of them, verifying that you own the website, and submitting it there. It's free.
  • Google Search Console
  • Bing Webmaster Tools
You may not need to do that if your blog is already linked to from other sites. In such a case, the search engines will probably find it themselves by following those links.
If you use WordPress as your blog software, it will also automatically announce every new post you make to various news feed aggregators. That is to say, the software automatically creates a news feed comprising the complete articles that you post. It then announces that new post, via something known as a blog pinging service, to a variety of places that collect such information (the aforesaid "news feed aggregators"). Before you get excited though, these aggregators are usually just sites where people who subscribe to a news feed can read it online. It doesn't mean that you have made international news or anything like that. Your post will only reach the people who already know about your website and have specifically elected to be informed about new articles (or, in web jargon, "subscribed" to your feed). And even then, those visitors may not even use such services, but their own feed reader software (or even web browser, a few of which support news feeds out-of-the-box).